रैमन मैग्सेसे पुरस्कार को जीतने वाले भारतीय

indian win ramon magsaysay award

रैमन मैग्सेसे पुरस्कार की स्थापना अप्रैल 1957 में हुई थी। यह पुरस्कार फिलीपींस के दिवंगत राष्ट्पति  रैमन मैग्सेसे की याद में दिया जाता है।  यह पुरस्कार अप्रैल 1957 में फिलीपीन सरकार की सहमति से न्यूयॉर्क शहर स्थित रॉकफेलर ब्रदर्स फंड के ट्रस्टियों द्वारा स्थापित किया गया था। रैमन मैग्सेसे पुरस्कार एशिया का प्रमुख और सर्वोच्च सम्मान वाला पुरस्कार है। यह एशिया में अच्छी भावना और परिवर्तनकारी नेतृत्व को सम्मानित करता है। पुरस्कार फिलीपींस के मनीला शहर में फिलीपींस के बेहद सम्मानित राष्ट्रपति जिनके आदर्शों ने इस पुरस्कार की नींव डाली, के जन्म दिवस 31 अगस्त को, एक औपचारिक समारोह में प्रदान किया जाता है। रैमन मैग्सेसे पुरस्कार को एशिया का नोबल पुरस्कार भी कहा जाता है। यह पुरस्कार 6 श्रेणियों में दिया जाता है।

ये श्रेणियां हैं

  • सरकारी नौकरी (जीएस)
  • लोक सेवा (पीएस)
  • सामुदायिक नेतृत्व (सीएल)
  • पत्रकारिता, साहित्य एवं रचनात्मक संचार कला (जेएलसीसीए)
  • शांति एवं अंतरराष्ट्रीय समझ (पीआईयू)
  • अनपेक्षित नेतृत्व (ईएल)

✯ उल्लेखनीय है कि वर्ष 2008 तक यह पुरस्कार 6 विभिन्न श्रेणियों में प्रदान किए जाते थे परंतु उसके पश्चात श्रेणियों को समाप्त कर दिया गया।

✯ आचार्य विनोबा भावे पहले भारतीय थे जिन्हें इस प्रतिष्ठित पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। वहीं, मदर टेरेसा पहली भारतीय महिला थी जिन्हें इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। 

रैमन मैग्सेसे पुरस्कार जीतने वाले भारतीयों की सूची

नामवर्षश्रेणी
विनोबा भावे1958सामुदायिक नेतृत्व
चिंतामन देशमुख1959सरकारी नौकरी
अमिताभ चौधरी1961पत्रकारिता, साहित्य और रचनात्मक संचार कला
मदर टेरेसा1962शांति और अंतरराष्ट्रीय समझ
दारा खुरोदे1963सामुदायिक नेतृत्व
वर्गिज कुरियन1963सामुदायिक नेतृत्व
त्रिभुवनदास पटेल1963सामुदायिक नेतृत्व
वेल्दी फिशर1964शांति और अंतरराष्ट्रीय समझ
जयप्रकाश नारायण1965लोक सेवा
कमलादेवी चट्टोपाध्याय1966सामुदायिक नेतृत्व
सत्यजीत रे1967पत्रकारिता, साहित्य और रचनात्मक संचार कला
मोनकाम्पू संबासिवन स्वामीनाथन1971सामुदायिक नेतृत्व
एम.एस. सुब्बालक्ष्मी1974लोक सेवा
बूबलि जॉर्ज वर्गिज1975पत्रकारिता, साहित्य और रचनात्मक संचार कला
हेनिंग हॉल्क– लार्सन1976शांति और अंतरराष्ट्रीय समझ
ईला रमेश भट्ट1977सामुदायिक नेतृत्व
माबेली अरोली1979सामुदायिक नेतृत्व
रजनीकांत अरोली1979सामुदायिक नेतृत्व
गौर किशोर घोष1981पत्रकारिता, साहित्य और रचनात्मक संचार कला
प्रमोद करण सेठी1981सामुदायिक नेतृत्व
चांदी प्रसाद भट्ट1982सामुदायिक नेतृत्व
मणिभाई देसाई1982लोक सेवा
अरुण शौरी1982पत्रकारिता, साहित्य और रचनात्मक संचार कला
रासीपुरम लक्ष्मण1984पत्रकारिता, साहित्य और रचनात्मक संचार कला
मुरलीधर आम्टे1985लोक सेवा
लक्ष्मी चांद जैन1989लोक सेवा
के. बी. सुब्बान्ना1991पत्रकारिता, साहित्य और रचनात्मक संचार कला
रवि शंकर1992पत्रकारिता, साहित्य और रचनात्मक संचार कला
बन्नो जाहंगीर कोयाजू1993लोक सेवा
किरण बेदी1994सरकारी नौकरी
पांडुरंग अठावले1996सामुदायिक नेतृत्व
तिरुनेल्लई शेषण1996सरकारी नौकरी
महाश्वेता देवी1997पत्रकारिता, साहित्य और रचनात्मक संचार कला
जॉकिन अरपुथम2000शांति और अंतरराष्ट्रीय समझ
अरुणा रॉय2000सामुदायिक नेतृत्व
राजेन्द्र सिंह2001सामुदायिक नेतृत्व
संदीप पांडे2002अनपेक्षित नेतृत्व
जेम्स माइकल लिंग्दोह2003सरकारी नौकरी
शांति सिन्हा2003सरकारी नौकरी
लक्ष्मीनारायण रामदास2004शांति और अंतरराष्ट्रीय समझ
वी. शांता2005लोक सेवा
अरविन्द केजरीवाल2006अनपेक्षित नेतृत्व
पालागुम्मी साईनाथ2007पत्रकारिता, साहित्य और रचनात्मक संचार कला
    मंदाकिनी आम्टे2008सामुदायिक नेतृत्व
दीप जोशी2009सामुदायिक नेतृत्व
नीलिमा मिश्रा2011अनपेक्षित नेतृत्व
हरीश हांडे2011सामुदायिक नेतृत्व
कुलानदेई फ्रांसिस2012अनपेक्षित नेतृत्व
अंशु गुप्ता और संजीव चतुर्वेदी2015अनपेक्षित नेतृत्व
विजवाड़ा विल्सन और टीएम कृष्णा2016अनपेक्षित नेतृत्व
सोनम वांगचुक और भरत वाटवानी2018समाजसेवा
रवीश कुमार2019पत्रकारिता
स्त्रोत:- न्यूज़पेपर्स एवं इंटरनेट

भारत के वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार को साल 2019 के रेमन मैग्सेसे पुरस्कार के लिए चुना गया है। रवीश कुमार के अलावा, इस साल (2019) के रेमन मैग्सेसे पुरस्कार के चार अन्य विजेताओं में म्यामांर के कोस्वेविन, थाइलैंड की अंगखाना नीलापाइजित, फिलीपीन के रैयमुंडो पुजंते और दक्षिण कोरिया के किम जोंग की शामिल हैं।

कोरोना वायरस महामारी के कारण रैमन मैग्सेसे पुरस्कार को 2020 में रद्द कर दिया गया है। यह तीसरी बार है जब रैमन मैग्सेसे पुरस्कार को पिछले छह दशकों में रद्द किया गया हो। इन पुरस्कारों को 1970 में आर्थिक संकट के चलते और 1990 में विनाशकारी भूकंप की वजह से पूर्व में भी रद्द किया जा चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Scroll to Top